रेलवे परियोजना: जमीन की उचित दर मिलने तक गांवों में अधिकारियों के प्रवेश का विरोध करने की घोषणा

Dav

तलवाडा (द स्टैलर न्यूज़)। कंडी क्षेत्र रेलवे प्रभावित संघर्ष समिति ने जमीन के उचित मूल्य की मांग को लेकर शहर में विरोध मार्च निकाला. ।इसके साथ ही समिति ने उचित दाम नहीं मिलने पर अधिकारियों के गांवों में प्रवेश का विरोध करने का भी ऐलान किया है। रोष मार्च का अध्यक्षता संघर्ष समिति के अध्यक्ष सुनील कुमार परमार ने किया और इसमें भटोली, भवनौर, रामगढ़ सीकरी, नंगल खानौडा, करटोली और अन्य गांवों के जमींदारों ने भाग लिया। विरोध मार्च स्थानीय राय साहिब चौधरी ज्ञान सिंह चौक से शुरू होकर मुख्य बाजार से होते हुए महाराणा चौक पर समाप्त हुआ। इस मौके पर विनोद कुमार भवनौर, श्री नरेश कुमार उर्फ नीतू अमरोह, श्री संजय शर्मा करटोली, श्री कला नंगल खानौडॉ ने संबोधित किया। प्रवक्ताओं ने बताया कि नंगल बांध-तलवाड़ा होते हुये ऊना प्रस्तावित रेल परियोजना के लिए पंजाब की तरफ से सरहद के गांव भटोली से जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

Advertisements

परियोजना के लिए अधिग्रहित की जाने वाली भूमि के लिए सरकार बहुत कम दर का भुगतान कर रही है। प्रशासन द्वारा घोषित कीमत 1,200 रुपये से 2,500 रुपये प्रति मरला रेट के खिलाफ जमींदारों में भारी आक्रोश है। पीड़ितों ने कंडी क्षेत्र संघर्ष समिति के बैनर तले एसडीएम मुकेरियां और उपायुक्त होशियारपुर से अपना दुख जताया है,। लेकिन प्रशासन अभी तक कोई समाधान नहीं निकाल पाया है. । जबकि हिमाचल प्रदेश के सीमावर्ती शहर दौलतपुर में भूस्वामियों को एक ही परियोजना के लिए कई गुना अधिक दरें दी गई हैं। प्रवक्ताओं ने कहा कि सरकार जिस कीमत पर उनकी जमीनों का अधिग्रहण करने जा रही है वह पंजाब में कहीं भी यह रेट नही है। पीड़ितों ने कम दरों पर जमीन नहीं देने की घोषणा की। संघर्ष समिति ने ग्रामों में रेल विभाग से संबंधित किसी भी कार्य का भूमि का उचित मूल्य तय होने तक विरोध करने की चेतावनी दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here