पूर्व मंत्री अरोड़ा को विजीलैंस द्वारा आय से अधिक का नोटिस भेजना आप की बदलाखोरी नीति का प्रमाण: परमार

rajinder-parmar-anti-drug-society
Dav

होशियारपुर (द स्टैलर न्यूज़)। प्रमुख समाज सेवक राजिंद्र सिंह परमार ने आज यहां जारी एक प्रैस विज्ञप्ति में कहा कि आम आदमी पार्टी सरकार बदलाखोरी की राजनिति कर रही है,आप सरकार आप के मंत्री व विधायक तो छोड़ों मंत्रियों के रिश्तेदार व चमचे सरेआम गुंडागर्दी पर उतर आए हैं। अपने राजनितिक विरोधियों पर थानों में झूठे पर्चे दर्ज करवा कर विरोधियों को डराने धमकाने में लगे हैं। परमार ने आम आदमी पार्टी सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि पूर्व मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा को आमदन से अधिक संपत्ति मामले में विजिलेंस द्वारा समन जारी करना बदलाखोरी की सियासत है तथा अगर आय से अधिक संपत्ति का मामला है तो इस की जांच आयकर विभाग द्वारा की जानी चाहिए न कि विजिलेंस द्वारा। बदलखोर नीति में अंधी हुई आम आदमी पार्टी राजीतिक विरोधियों को परेशान कर अपनी विफलताओं पर पर्दे डाल रही है। हर कोई जानता है कि श्री अरोड़ा एक सफ़ल बिजनेसमैन हैं तथा आज इस मुकाम पर अपनी मेहनत और सूझबूझ से पहुंचे है तथा वह अपनी संपत्ति आदि तो पहले ही हाल में हुए विधान सभा चुनाव में घोषणा पत्र में बता चुके हैं।

Advertisements

परमार ने कहा कि आम आदमी पार्टी में अगर हिम्मत है तो आम आदमी पार्टी को अपने विधायकों के पिछले छह महीनों के बैंक खातों को जांच विजीलेंस से करवानी चाहिए। क्योंकि, कुछ विधायकों ने चुनाव दौरान बैंको से चुनाव लडऩे लिए कर्ज़ बैंक को कहां से लौटा दिए यह जांच का विषय है। परमार ने कहा कि आम आदमी पार्टी का कोई भी मंत्री या विधायक दूध का धुला नही है। भृष्टाचार मुक्त पंजाब के दावे सिर्फ़ कागज़ी जुमले है आज भी सरकारी महकमों में भृष्टाचार का खेल धड़ल्ले से चल रहा है। आम आदमी पार्टी सरकार तथा उस के मंत्री झूठे प्रोपोगेंडा में ही व्यस्त है।

GNA University

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here