हिमाचल में शिक्षा व्यवस्था को दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने बताया दयनीय, हमीरपुर में किया शिक्षा को लेकर संवाद

Dav

हमीरपुर (द स्टैलर न्यूज़), रिपोर्ट: रजनीश शर्मा। हिमाचल प्रदेश में चुनावी वर्ष में सियासत गरमाने लगी है।भाजपा व कांग्रेस पार्टी के साथ आम आदमी पार्टी ने भी चुनावों के लिए कमर कमर कस ली है। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप नेता अरविंद केजरीवाल शनिवार को पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के साथ हमीरपुर पहुँचे और प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था को लेकर अभिभावकों और शिक्षाविदों से संवाद किया। केजरीवाल ने हिमाचल की शिक्षा व्यवस्था को लेकर भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि हिमाचल में 14 लाख बच्चे स्कूल जाते हैं जिनमें से साढ़े आठ लाख सरकारी तथा साढ़े पांच लाख प्राइवेट स्कूलों में पढ़ते हैं। सरकारी स्कूलों के बच्चों का भविष्य अंधकार में है। क्योंकि कई स्कूलों में पढ़ाने वाले टीचर ही नहीं हैं। उन्होंने कहा कि पांच पांच कक्षाओं को एक टीचर पढ़ा रहा है।

Advertisements

केजरीवाल ने आंकड़े देते हुए कहा कि हिमाचल में 722 स्कूल ऐसे हैं जहां एक ही कमरा है। पिछले दो साल में 55 सरकारी स्कूलों में एक भी बच्चा पास नहीं हुआ। हिमाचल में भाजपा और कांग्रेस कभी शिक्षा में सुधार को लेकर वोट मांगने नहीं आई। केजरीवाल ने कहा कि दोनों पार्टियों ने मजाक बना रखा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली और पंजाब के लोगों ने आम आदमी पार्टी को मौका दिया। वह एक मौका हिमाचल वालों से भी मांगते हैं। केजरीवाल ने कहा कि हिमाचल में 30 साल कांग्रेस को मौका दिया व 20 साल भाजपा को, इस बार एक मौका आम आदमी पार्टी को देकर फर्क देख लें। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी ने दिल्ली और पंजाब में सुशासन स्थापित किया है, अब हिमाचल की बारी है। उन्होंने कहा कि हिमाचल वाले एक मौका आम आदमी पार्टी को इस बार जरूर देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here