जालंधर में दिनदहाड़े लूटा बैंक, 4 युवक हथियार दिखाकर 13 लाख रुपए और जेवर लेकर हुए फरार

Dav

जालंधर(द स्टैलर न्यूज़), रिपोर्ट: अभिषेक कुमार। पंजाब के जालंधर शहर में गुरुवार को दिनदहाड़े एक बैंक से 13 लाख रुपए लूट लिए गए। वारदात जालंधर के सोढल रोड स्थित इंडस्ट्रियल एरिया में यूको बैंक में हुई। दोपहर बाद 4 युवक हथियार लेकर बैंक में घुसे और कर्मचारियों और बैंक में मौजूद लोगों को बंधक बनाकर लूट के बाद फरार हो गए । बैंक कर्मचारियों ने बताया कि लुटेरे 4 थे जिनमें से 2 के पास पिस्तौल थे। वह ब्रांच में रखे 13 लाख रुपए कैश के अलावा वहां आए लोगों के सोने-चांदी के जेवरात भी उतरवाकर ले गए। बैंक स्टाफ ने बताया कि एक लुटेरे ने पिस्तौल तानकर लोगों से जेवर उतारने को कहा। बदमाश बैंक में मौजूद एक महिला की सोने की चैन, कंगन और अंगूठी उतरवाकर ले गए।सभी लुटेरे ने अपनी पहचान छुपाने के लिए मुंह पर मास्क लगा रखे थे।शहर के भीड़भाड़ वाले इलाके इंडस्ट्रियल एरिया में लूट की घटना से क्षेत्र के लोगों में भी दहशत का माहौल है। क्षेत्र में कई छोटे-बड़े उद्योग हैं उनके मालिक और प्रबंधक भी लूट की खबर के बाद सकते में आ गए हैं। क्योंकि फैक्ट्रियों से रोज कैश बैंक में जमा होने के लिए भी जाता है और देनदारियों के लिए बैंक से कैश लाया भी जाता है। घटना के बाद बैंक कर्मचारियों ने पुलिस को सूचना दी।

Advertisements
GNA University

बैंक पहुंची पुलिस ने वहां लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज अपने कब्जे में ले ली।लुटेरे ने कैशियर के केबिन तक पहुंचने के लिए वहां पर लगे शीशे को तोड़ डाला। इसके बाद वह बैंक कैशियर के केबिन में घुस गया। वहां पर रखा सारा कैश वह एक बैग में डालकर ले गया। पुलिस ने बैंक में फॉरेंसिक टीम को भी बुला लिया है। फॉरेंसिक टीम शीशे पर लगे लुटेरों के फिंगर प्रिंट की जांच बॉयोमीट्रिक स्कैनर की मदद से कर रही है। इस लूट की गुत्थी को सुलझाने के लिए पुलिस साइंटिफिक तरीकों के अलावा अपने नेटवर्क का भी सहारा ले रही है। बैंक में चार लुटेरे घुसे थे। चारों पूरी प्लानिंग के साथ आए थे। चारों में से दो के हाथ में पिस्तौल थे। यह दोनों लोगों को एक जगह पर इका करके बंधक बनाने का काम कर रहे थे। जबकि इन लुटेरों के दो साथियों के पास हथियार नहीं थे। वह सिर्फ बैंक से कैश इका कर रहे थे जबकि एक लुटेरा बैंक में महिलाओं के सोने के आभूषण उतरवा रहा था। लूट के वक्त बैंक में मौजूद एक ग्राहक विनोद कुमार ने बताया कि लुटेरों ने बैंक में आते ही हवा में पिस्तौल लहराते हुए कहा कि ‘जेहड़ा जित्थे है उत्थे ही खड़ा रहे जां बैठ जाए। जे हिल्ले तां गोली मार देआंगे।‘ विनोद ने कहा कि बैंक मे सभी लोग डर गए। लेकिन उन्हें पहले लगा कि शायद कोई ड्रामा कर रहा है। लेकिन जब उन्होंने लूट की वारदात को अंजाम देना शुरु किया तो वह भी डर गए।बकौल विनोद एक व्यक्ति ने कैश लूटना शुरु किया तो दूसरे ने महिलाओं ने गहने उतरवाने शुरू किए।

मेरे सामने ही एक मैडम के गले से सोने की चेन और हाथों से सोने के कड़े अंगुठियां, वालियां उतरवा कर ले गए। उन्होंने बैंक में मौजूद पुरुषों के हाथों से भी अंगुठियां और चेनें उतरवा लीं। लुटेरा हाथ में सोने की अंगूठी देखकर उसके पास भी आया और बोला कि उसे दे दे। विनोद कहा कि उसने लुटेरे से कहा कि यह शादी की अंगूठी है तो वह बिना लूटे ही चला गया। बैंक में सुरक्षा को लेकर एक बहुत बड़ा लैप्स सामने आया है। लूट के वक्त बैंक में कोई सुरक्षा कर्मी ही नहीं था। इंडस्ट्रियल एरिया का बैंक जिसमें हर रोज करोड़ों रुपये का लेन देन होता है उसमें सुरक्षा कर्मी का न होना भी कई सवाल खड़े कर रहा है। सुरक्षा कर्मी होता तो शायद आज लूट होने से बच जाती।लुटेरों ने बैंक में लूट से पहले पूरी रैकी कर रखी थी। उन्हें पता था कि बैंक में सुरक्षा कर्मी नहीं है। लूट के वक्त बाहर से बैंक में तीन लुटेरे घुसे।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार लुटेरों का एक साथी पहले से ही बैंक में मौजूद था। उसने अपने लुटेरे साथियों को सूचना दी उसके बाद वह बैंक में घुसे। जो लुटेरा पहले से बैंक में मौजूद था वह कैश काउंटर की लाइन में लगकर पहले रेकी करता रहा। उसके बाद वह बैंक में लगी कुर्सियों पर जा बैठा। लोगों को भी लुटेरे के बारे में तब पता चला जब वह अपने साथियों के बैंक में घुसते ही उनकी भाषा बोलने लगा। एसीपी नॉर्थ मोहित कुमार ने भी इसकी पुष्टि की है कि लूट के वक्त बैंक में कोई गार्ड या सुरक्षा कर्मी नहीं था। उन्होंने कहा कि वह इसकी भी जांच कर रहे हैं कि लूट के वक्त गार्ड कहां पर था। उन्होंने लूट के बारे में कहा कि अभी कैश का मिलान चल रहा है। फिलहाल 13 लाख से ज्यादा की लूट का पता चल पाया है यह आंकड़ा बढ़ भी सकता है। उन्होंने कहा कि बैंक व बाहर लगे सीसीटीवी कैंमरों की फुटेज का कब्जे में ले लिया गया है। इन्हें खंगाला जा रहा है कि लुटेरे किस रास्ते से आए थे और लूट के बाद वह किस रास्ते से गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here