विक्रम ने पायलट बनकर पूरा किया बचपन का सपना, परिजनों और गांव में खुशी का माहौल

Dav

चौपाल/मडावग (द स्टैलर न्यूज़),रिपोर्ट: बालम गोगटा/रजनीश शर्मा। शिमला जिले के चौपाल उपमंडल के मडावग गाँव का विक्रम आज बचपन में देखे अपने सपने को पूरा होते हुए देख बेहद ख़ुश है। विक्रम अब पायलट बन गया है और शीघ्र ही एयर एशिया का जहाज उड़ाते हुए आसमान की बुलंदियों को छुएगा।

Advertisements

-एप्पल बेल्ट का प्रथम युवा अब आसमान की बुलंदियों पर उड़ता नजर आएगा

आपको बता दें कि एशिया के सबसे अमीर और एप्पल बेल्ट के नाम से मशहूर चौपाल के मडावग गाँव के युवक विक्रमजीत सिंह डोगरा का चयन एयर एशिया में बतौर पायलट हुआ है एवं वह जल्दी ही एयर एशिया के जहाज उड़ाता नजर आएगा! उसके पायलट बनने पर न केवक उसके परिवार एवं मडावग, बल्कि पूरे उपमंडल चौपाल में जश्न का माहौल है। विक्रम जीत पूरे उपमंडल चौपाल में पायलट बनने वाला पहला युवक है। विक्रमजीत के पिता संतोष डोगरा पंचायत समिति चौपाल के अध्यक्ष रह चुके हैं एवं उस के ताया हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट के महाधिवक्ता रह चुके हैं,जबकि माता पंजाब यूनिवर्सिटी की बेस्ट शूटर एवं गणतंत्र दिवस के परेड में भाग लेने वाली एनसीसी कैडेट रह चुकी हैं।

विक्रमजीत की दस जमा दो तक की प्रारंभिक शिक्षा शिमला के सेंट एडवर्ड स्कूल,बीएससी डीएवी कॉलेज चंडीगढ़ से हुई जहां पर उसे बेस्ट कैडेट इन फ्लाइंग का खिताब भी हासिल हो चूका है। इसके उपरान्त ओडिशा के भुवनेश्वर के एविएशन ट्रेनिंग स्कूल से व्यावसायिक पायलट का लाइसेंस प्राप्त करने के बाद जॉर्डन से एयर बस का प्रशिक्षण प्राप्त किया। विक्रम अपनी सफलता का श्रेय अपने माता पिता,गुरुजनों एवं अपने मित्रों को देते हुए कहता है कि पायलट बनना उसका बचपन का सपना था जो आज उसकी मेहनत, ईश्वर व बड़ों के आशीर्वाद से पूर्ण हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here