कूड़े के ढेर से परेशान लोगों ने करणी सेना के साथ मिलकर लगाया जाम

Shri Dashmesh Academy Hoshiarpur

होशियारपुर(द स्टैलर न्यूज़)। होशियारपुर के मोहल्ला कमालपुर में करणी सेना के लोगों ने दोपहर जालंधर रोड जाम कर जि़ला प्रशासन व नगर निगम के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। कूड़े का ढेर न उठा पाने में असमर्थ प्रशासन से लोग परेशान थे । जिसके चलते उन्होंने रोड़ जाम कर दिया। वहीं थाना मॉडल टाउन पुलिस ने मौके पर पहुंचकर रोड़ जाम खुलवाने की कोशिश की। इस दौरान लोगों में और पुलिस अधिकारियों में बहस हो गई, वहीं मौके पर मौजूद पार्षद के पति कश्मीर सिंह जोकि अपनी खुद की सरकार से ही खफा नजर आए। उन्होंने कहा कि कई बार कमिश्नर से इस संबंधी कहा जा चुका है लेकिन कोई अधिकारी उनकी नहीं सुनता। उन्होंने कहा कि इस प्रदर्शन में वह भी लोगों के साथ खड़े हैं। स्थानीय लोगों ने बताया कि पिछले लंबे समय से कूड़े के लगे ढेर से लोग परेशान है, जिसकी वजह से उन्हें तथा उनके बच्चों को कई बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है।

Advertisements

उन्होंने कहा कि वह कई बार प्रशासन तथा मेयर शिव सूद के समक्ष अपनी परेशानी रख चुके हैं लेकिन हर बार उन्हें आश्वासन ही दिया जाता है परंतु किसी तरह की भी कार्रवाई को अभी तक अमल में नहीं लाया गया। इस दौरान करणी सेना तथा मोहल्ला कमालपुर निवासियों ने लोगों के साथ मिलकर रोड जाम कर जमकर नारेबाजी करनी शुरू कर दी तथा तब तक जाम नहीं खोला गया। जब तक सफाई का कार्य शुरू नहीं हो गया। वही मौके पर पहुंचे थाना मॉडल टाउन थाना प्रभारी भरत मसीह ने लोगों को उनकी मांग प्रशासन तक पहंचाने का आश्वासन दिया और कहा कि जल्द ही मोहल्ला वासियों को इस समस्या से निजात दिलावाया जाएगा। इस दौरान नगर निगम कार्यालय से पहुंचे इंस्पेक्टर ने मामला देख के सफाई करवा दी जाएगी।

वहीं मौके पर पहुंचे चीफ सैनेटरी इंसपेक्टर ने मामला उनके ध्यान में आ चुका है उनका मांगपत्र भी ले लिया है और बड़े अफसरों तक उनकी बात पहुंचा दी जायेगी, वही सफाई की व्यवस्था शुरू करवा दी गई है । वहीं जब उनसे पूछा गया कि यह जगह तो प्राइवेट है और आप इसे डंप कह रहे है तो उन्होंने कहा कि रोजाना यहां कूड़ा फेंका जाता है जिस के चलते पूरा मोहल्ला यही कूड़ा फेंक जाता है और सफाई रोजाना होती है। वहीं उन्होंने कहा चैक करवा लेते है। किस की जगह है और बनती कर्रवाई की जाएगी।

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.