जानलेवा हमला मामले में एक ही गांव के 18 लोग बरी, सैशन कोर्ट ने 2 केसों में सुनाया फैसला

Dav

हमीरपुर (द स्टैलर न्यूज़),रिपोर्ट: रजनीश शर्मा। हमीरपुर जिले की माननीय सैशन जज की अदालत ने दो अलग-अलग मामलों में शुक्रवार को एक ही गाँव के 18 लोगों को दोषमुक्त करार कर बरी कर दिया है। आरोपियों पर जानलेवा हमले के आरोप थे लेकिन सरकारी पक्ष इन आरोपों को कोर्ट में साबित न कर पाया।

Advertisements

दोनों केस हमीरपुर पुलिस स्टेशन के तहत गाँव बुरनाड़ डाकघर खग्गल के थे। पुलिस चालान के मुताबिक़ नवंबर 2017 में बुरनाड़ गाँव में छोटी-सी बात से शुरू हुआ झगड़ा जानलेवा हमले में तब्दील हो गया। मौके पर पहुँची पुलिस द्वारा घायलों को हमीरपुर अस्पताल पहुँचाया गया। हमले में दोनों पक्षों की तरफ से तेजधार हथियारों व डंडों का प्रयोग हुआ।

दोनों मामले सैशन ट्रायल के रूप में माननीय सैशन जज राकेश कैथला की अदालत में पहुँचे। पहले मामले में स्टेट बनाम विपन कुमार में कुल 8 आरोपी बनाए गये। सरकारी पक्ष की तरफ़ से पैरवी जिला न्यायवादी सीएस भाटिया ने की। जबकि, बचाव पक्ष में पैरवी एडवोकेट किशोर शर्मा द्वारा की गयी। सरकारी पक्ष ने 15 गवाहों के बयान दर्ज करवाए जबकि डिफ़ेस में 4 गवाह बचाव पक्ष की तरफ से पेश किए गये। सरकारी पक्ष द्वारा साक्ष्यों को प्रामाणिक न कर पाने के कारण माननीय सैशन जज हमीरपुर राकेश कैथला की अदालत ने विपन कुमार, बाबू राम, प्रीतम सिंह, सीता राम, राजेश कुमार, पुरशोत्तम चंद, महेंद्र सिंह और बबीता पर लगे धारा 341, 323, 325, 504, 506बी, 147, 149 और धारा 307 के तहत लगे सभी आरोप ख़ारिज कर दिए तथा इन्हें बरी कर दिया।

एक अन्य मामले में स्टेट बनाम अजय कुमार ने शुक्रवार को माननीय सैशन जज राकेश कैंथला की अदालत में बुरनाड़ गाँव के 10 ग्रामीणों को आरोपों से मुक्त कर बरी कर दिया। इस सैशन ट्रायल में अधिकतर आरोपी महिलाएं थी। इस मामले में सरकारी पक्ष से पैरवी जिला न्यायवादी सीएस भाटिया ने की। जबकि बचाव पक्ष के वक़ील अश्वनी कुमार शर्मा रहे। सरकारी पक्ष की तरफ से इस केस में 14 गवाह भुगते तो बचाव पक्ष ने भी डिफ़ेस में 3 गवाह पेश किए। सरकारी पक्ष लगाए गये आरोपों की प्रमाणकिता कोर्ट में सिद्ध न कर पाया। इसलिए माननीय सैशन जज राकेश कैंथला की अदालत ने अजय कुमार, सुरम सिंह, विपन कुमार, सुनीता, बबीता, ज्ञानों देवी, उर्मिला देवी, काँता देवी, सलोचना देवी और संतोष कुमारी को आई.पी.सी. की धारा 341, 323, 325, 504, 147, 149 के आरोपों से मुक्त कर बरी कर दिया। ये सभी लोग गाँव बुरनाड़ डाकघर खग्गल जिला हमीरपुर के रहने वाले हैं। गाँव में एक साथ 18 लोगों के कोर्ट से बरी होने पर खूब चर्चा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here