नियंत्रण रेखा के पास सडक़ मार्ग पर स्टील के बर्तन में मिली आई.ई.डी.

Shri Dashmesh Academy Hoshiarpur
TrimpleM Hoshiarpur

जम्मू/राजौरी-पुंछ(द स्टैलर न्यूज़), रिपोर्ट: अनिल भारद्वाज। भारत-पाक नियंत्रण रेखा के पास सडक़ बड़ी बारदात को अंजाम देने के लिए आतंकियों द्वारा आईईडी बिछाने जाने से लोगों को काफी ख़ौफ देखने को मिला। सेना व पुलिस ने कुछ घंटे तक दोनों तरफा की आवाजाही बंद रखी। और आई.ई.डी. स्टील के बर्तन में फिट कर सडक़ किनारे रखी थी। जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में सोमवार सेना के गश्ती दल ने एक इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) का पता चला और सेना ने पुलिस को सूचित किया। सेना ने पूरे क्षेत्र को अपने कब्जे में लिया और तलाशी अभियान भी चलाया। कृष्णा घाटी टॉप ( केजी) सडक़ मार्ग पर सेना के वाहन आवाजाही करते रहते है । फौज का राशन , गोलाबारूद अन्य भी इसी मार्ग से होते हुए नियंत्रण रेखा पर तैनात जवानों तक पहुँचता है।

Advertisements
heights Academy Coaching center hoshiarpur

आतंकियों ने नापाक हरकत के साथ आईईडी को मेंढर-पुंछ के अंतर्गत केजी टॉप सडक़ पर लगाया था। ताकि सेना काफिले को नुकसान पंहुचाया जाए। अलबत्ता रोजमर्रा की ड्यूटी पर लगे सेना के गश्ती दल ने इसे देख लिया। आतंकियों द्वारा एक्सप्लोसिव डिवाइस एक स्टील के बर्तन में लगाई गई थी।

सेना के डॉग स्कावायड और बम डिस्पोजल स्कावायड (बी.डी.एस.) की मदद से आईईडी को निष्क्रिय किया गया। सुरक्षा के मद्देनजर मार्ग पर दोनों तरफा की आवाजाही कुछ घंटे के लिए रोक दी गई। और सेना द्वारा आई.ई.डी. को निष्क्रिय करने के उपरांत ही आवाजाही को बहाल किया गया।

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.