सडक़ बनाई जाए, मगर लैवल ठीक किए बिना नहीं करने दिया जाएगा काम: मोहल्ला निवासी

TrimpleM Hoshiarpur

होशियारपुर (द स्टैलर न्यूज़)। सरकारी कालेज चैक से प्रभात चौक तक बनाई जा रही सडक़ का लैवल ठीक किए जाने की मांग को लेकर 15 मई को मोहल्ला कच्चे क्वार्टर, मनोहर गली, न्यू रामगढ़, रामगढ़ आदि के निवासियों ने सडक़ बनाने का विरोध किया था। इस दौरान मौके पर पहुंचे लोक निर्माण विभाग के एस.डी.ओ. राजिंदर कुमार ने काम रुकवा दिया था और मामला उच्चाधिकारियों के ध्यान में लाकर इसका हल निकालने का आश्वासन दिया था। सडक़ का लैवल ठीक करने एवं सडक़ को उखाडक़र बनाने की मांग को लेकर आज दूसरे दिन भी मोहल्ला निवासियों ने प्रशासन के खिलाफ रोष व्यक्त किया। इस दौरान गीता रानी, वीना कुमारी, जितेन्द्र फलौरा, भूषण शर्मा, नीना शर्मा सहित बड़ी संख्या में इक_ा हुए लोगों ने बताया कि हर बार सडक़ बनाने पर इसका लैवल ऊंचा हो जाता है तथा एक समय था जब समस्त मोहल्लों की गलियां सडक़ से 2-3 फीट ऊंची होती थी, परन्तु आज सडक़ गलियों से 2-3 फीट ऊंचा हो चुकी है, जिस कारण जरा सी बारिश से हालात बद से बदतर बन जाते हैं और पानी लोगों के घरों एवं दुकानों में घुस जाता है। लोगों ने बताया कि उन्हें सडक़ बनाए जाने से कोई आपत्ति नहीं, मगर इसका लैवल ठीक करके बनाया जाए और पानी निकासी का प्रबंध किया जाना बेहद जरुरी है। लोगों ने बताया कि गत रात्रि जरा सी बारिश के बाद का नजारा सभी के सामने है।

Advertisements
TripleM Hoshiarpur

अगर यही हालात रहे तो आगामी माह में जब बरसात शुरु होगी तो स्थिति और भी भयंकर बन जाएगी। पानी की निकासी न होने से घंटों पानी गलियों में खड़ा रहता है, घरों की नींव एवं गलियों को नुकसान पहुंचता है। जिससे नगर निगम पर भी गलियां पुन: बनाने का खर्च बढ़ेगा तथा लोगों के घरों का नुकसान होने पर उन्हें भी आर्थिक शोषण से जूझना पड़ेगा। इतना ही नहीं जो तो सामर्थ थे उन्होंने अपने घर व दुकानें ऊंचे करवा लिए, परन्तु हर व्यक्ति सामर्थ नहीं है। इसलिए सडक़ का लैवल ठीक किए बिना व बरसाती पानी की निकासी का प्रबंध किए बिना सडक़ बनाया जाना किी भी सूरत में तर्कसंगत नहीं है। लोगों ने चेतावनी दी कि पानी निकासी का प्रबंध किए बिना एवं लैवल ठीक किए बिना सडक़ का निर्माण किसी भी सूरत में नहीं होने दिया जाएगा। लोगों ने कहा कि सडक़ बनाने उपरांत यह लोग व प्रशासन तो अपने घरों में जाकर सो जाता है, परन्तु समस्या तो उन्हें झेलने पड़ रही है तथा नुकसान उन्हें उठाना पड़ रहा है। इसलिए सडक़ तभी बनेगी जब लैवल ठीक होगा।

इस संबंध में लोकनिर्माण विभाग के एस.डी.ओ. राजिंदर कुमार से संपर्क करने का प्रयास किया गया, मगर चुनावी ड्यूटी में होने के चलते उनसे बात नहीं हो सकी। जबकि दूसरी तरफ नगर निगम के सहायक कमिशनर सदीप तिवाड़ी का कहना है कि लोकनिर्माण विभाग द्वारा सडक़ के निर्माण संबंधी निगम के साथ कोई परामर्श नहीं किया गया। यह सही है कि सडक़ का लैवल ऊंचा होने से आसपास पड़ते मोहल्लों को नुकसान होगा और निगम के पास इतना फंड नहीं है कि वो गलियों एवं लोगों के घरों को ऊंचा करवा सके। इसलिए सारा मामला निगम कमिशनर एवं जिलाधीश के ध्यान में लाया जाएगा ताकि इसका कोई स्थायी हल निकाला जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.